13 नवंबर 2009

कोरा और राज के लिए कांग्रेस को सजा हो.

राज ठाकरे और मधु कोरा कांग्रेस की देन है। कांग्रेस की इस गलती की उसे सजा मिलनी चाहिए। कोरा और राज के पास खोने के लिए कुछ नही है। यदि किसी को लूटने और मारने की छूट हो तो वह वही काम करेगा और दोनों को सरकार ने यह छूट दी है। दोनों घटना साबित करती है की देश नेताओं के लिए कुछ नही, सत्ता के लिए कुछ भी करेगें। राज प्रकरण पर मिडिया को थोरा सावधान रहना चाहिय। राज प्रचार चाहता है और मीडिया वह दे रही है। कोरा प्रकरण पर भी मिडिया कटघरे मे है। जब कोरा लूट रहे थे तो मिडिया भी सहभागी था। मिडिया को भी करोरों का ऐड मील रहा था और फ़िर मिडिया जो आज चिल्ला रही है पहले कहाँ थी जब लूट हो रहा था यानी इस हमाम मे हम सभी नंगे है.

वोट बैंक में बदला धर्म लोकतंत्र का जहर

वोट बैंक में बदला धर्म लोकतंत्र का जहर अरुण साथी ताजिया को अपने कंधे पर उठाए मेरे ग्रामीण युवक बबलू मांझी रात भर जागकर नगर में घूमता रहा। ...