04 सितंबर 2021

तेजस ट्रेन में नंग-धड़ंग एमएलए के लूज मोशन का सकारात्मक पक्ष

 तेजस ट्रेन में नंग-धड़ंग एमएलए के लूज मोशन का सकारात्मक पक्ष


हास्य  व्यंग्य
अति आधुनिक तेजस ट्रेन में बिहार के सत्ताधारी पार्टी के एक विधायक जब नंग-धड़ंग अवस्था में घूमते दिखे तो उसकी तस्वीर वायरल करने की अति दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना घटी। किसी ने इसके सकारात्मक पहलू को नहीं देखा। अब श्रीमान ने बताया कि उनको लूज मोशन हो गया था।  नहीं भी बताते तो लोग मान कर चलते हैं कि जातीय समीकरण और सत्ता के संरक्षण से विधायक बनने पर हाजमा खराब हो ही जाता है। सो इनकाे भी लू मोशन हो गया। वैसे भी बिहारी राजनीति लूज मोशन की शिकार रही है। कभी कभी पीएम मटिरियल बनने के लिए भी लूज मोशन हो जाता है। यह तो अप्राकृतिक प्रक्रिया है।

 सो कौन, कब, कहां बदबू फैला दे, कहा नहीं जा सकता। मंडल, कमंड, जातीय गणना। कितनी बदबू।
 
माना कि वे अर्धनग्न अवस्था में घूमते देखे गए। परंतु यह क्या कम है कि वह पूर्ण रुप से नग्न अवस्था में नहीं दिखाई दिए! यात्रियों ने जब इसका विरोध किया तो उन्होंने मानवता का परिचय देते हुए केवल गाली-गलौज ही की।  अति आधुनिक तेजस ट्रेन के स्पीड का आनंद पूर्ण वस्त्र में कभी नहीं लिया जा सकता। सो इन्होंने प्राकृतिक अवस्था को प्राप्त करते हुए तेजस ट्रेन के अति द्रुतगामी होने का आनंद लेने के लिए केवल अर्धनग्न अवस्था  को चुनकर यात्रियों के साथ-साथ रेल और देश पर अति उपकार किया। भावनाओं को समझें।

5 टिप्‍पणियां:

अग्निपथ पे लथपथ अग्निवीर

भ्रम जाल से देश नहीं चलता अरुण साथी सबसे पहले अग्निपथ योजना का विरोध करने वाले आंदोलनकारियों से निवेदन है कि सार्वजनिक संपत्तियों का नुकसान ...