14 मार्च 2011

क्रिकेट की कविता



रेडियो मिर्ची पर आईपीएल का 
विज्ञापन इस तरह से आता है 

``भारत एक कृषि प्रधान देश है
यहां क्रिकेट की फसल लहलहाएगी´´

हां भाई.... 

अब हमलोग बैड-बॉल खाऐगें

स्टेडियम की पीच पर

चीयर्स गर्ल के साथ चौको-छक्कों से नहाएगें 

मोदी सरीखे लोग डायमण्ड का 

टॉयलेट सीट बनाएगें 

तेन्दूलकर-धोनी अब भगवान कहलाएगें

मन्दीरों में ये पूजे जाएगें

बेचारा आम आदमी

आईपीएल , वर्ल्ड कप के महायज्ञ में

गांधी छाप चढ़ावा

दनादन चढ़ाऐगें 

फुटपाथ पे पेट पकड़ 

रामदीन और धनश्याम सो जाएगें.................!

वोट बैंक में बदला धर्म लोकतंत्र का जहर

वोट बैंक में बदला धर्म लोकतंत्र का जहर अरुण साथी ताजिया को अपने कंधे पर उठाए मेरे ग्रामीण युवक बबलू मांझी रात भर जागकर नगर में घूमता रहा। ...