19 मार्च 2011

होली मंगलमय हो





होली मंगलमय हो

रंग गुलाल उड़े जीवन में
बहुरंगी जीवन का हर पल हो
होली मंगलमय हो।

सतरंगी हो घर आंगन 
जीवन रण ने जय हो
होली मंगलमय हो।

भर पिचकारी खुशियां बांटों
कहीं न कोई भय हो
होली मंगलमय हो।

राग द्वेष को दिल से भुलाकर
प्रेम प्रकाश का दीप जलाकर
जग भाईचारा मय हो
होली मंगलमय हो।
होली मंगलमय हो।
होली मंगलमय हो।







11 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुंदर रचना ....रंग पर्व की मंगलकामनाएं आपको भी

    जवाब देंहटाएं
  2. आपको भी परिवार सहित होली की बहुत-बहुत मुबारकबाद... हार्दिक शुभकामनाएँ!

    जवाब देंहटाएं
  3. तस्वीर बहुत अच्छी लगाई है।
    रचना मे भाव अच्छे हैं
    हैप्पी होली।

    जवाब देंहटाएं
  4. हमारे त्यौहार ही हमें आपस में सब भूल कर , मिला देने की क्षमता रखते हैं । यही हमारे देश की ख़ूबसूरती है और त्योहारों की महत्ता । होली मंगलमय हो ।

    जवाब देंहटाएं
  5. नेह और अपनेपन के
    इंद्रधनुषी रंगों से सजी होली
    उमंग और उल्लास का गुलाल
    हमारे जीवनों मे उंडेल दे.

    आप को सपरिवार होली की ढेरों शुभकामनाएं.
    सादर
    डोरोथी.

    जवाब देंहटाएं
  6. आप को सपरिवार होली की ढेरों शुभकामनाएं.

    जवाब देंहटाएं

अग्निपथ पे लथपथ अग्निवीर

भ्रम जाल से देश नहीं चलता अरुण साथी सबसे पहले अग्निपथ योजना का विरोध करने वाले आंदोलनकारियों से निवेदन है कि सार्वजनिक संपत्तियों का नुकसान ...