19 मार्च 2011

होली मंगलमय हो





होली मंगलमय हो

रंग गुलाल उड़े जीवन में
बहुरंगी जीवन का हर पल हो
होली मंगलमय हो।

सतरंगी हो घर आंगन 
जीवन रण ने जय हो
होली मंगलमय हो।

भर पिचकारी खुशियां बांटों
कहीं न कोई भय हो
होली मंगलमय हो।

राग द्वेष को दिल से भुलाकर
प्रेम प्रकाश का दीप जलाकर
जग भाईचारा मय हो
होली मंगलमय हो।
होली मंगलमय हो।
होली मंगलमय हो।







रंडीबाज

रंडीबाज (लघुकथा, एक कल्पकनिक कथा। इस कहानी से किसी व्यक्ति या संस्था को कोई संबंध नहीं है) चैत के महीने में अमूमन बहुत अधिक गर्मी नहीं होत...