23 जनवरी 2018

जंगलराज: बिहार के नालंदा में घर पर गोलीबारी कर विधवा को भगाया। घर पर कब्जा किया। भीख मांग भर रही पेट। सर्द रात में सड़क पर बीत रहा जीवन

दबंगों ने घर पर गोलीबारी कर घर से भगाया, घर पर किया कब्जा
कड़ाके की ठंड में सड़क पर रह रही है वृद्धि और विकलांग परिवार
भीख मांग कर भर रहे पेट
नालंदा जिले के सरमेरा थाना के छोटी मलामा का मामला
शेखपुरा/नालंदा
अरुण साथी
नालंदा जिला पुलिस को खुलेआम चुनौती देते हुए दबंगों ने एक गरीब विधवा और उसके विकलांग पुत्र के घर पे जमकर गोलीबारी की और मारपीट कर घर से भगा दिया तथा घर पर कब्जा कर लिया। मामला नालंदा जिले के सरमेरा थाना के छोटी मलामा गांव का है। घर से भागी वृद्ध महिला अपने विकलांग पुत्र के साथ बरबीघा के पटेल नगर मोहल्ले में सड़क पर एक सप्ताह से रात बिता रही है तथा भीख मांग कर खाना खा रही है। यह मानवीय और दुखद घटना होते हुए भी सरमेरा थाना पुलिस इस पर किसी तरह की कार्रवाई नहीं कर रही।
क्या है पूरा मामला
बरबीघा के पटेल नगर मोहल्ले में मोहल्ले के लोगों के द्वारा दिये गए भोजन अथवा भीख मांग कर गुजारा कर रही सुरसी देवी ने बताया कि उसी के पड़ोस में रहने वाला दबंग और कुख्यात रामबालक ढाढी का सहकर्मी रहने वाला सिझो प्रसाद के द्वारा उनके घर पर लगातार गोलीबारी की गई और उनको और उनके पुत्रों को साथ मारपीट किया गया तथा घर से भगाकर घर पर कब्जा कर लिया। सुरसी देवी ने बताया कि घर से भागने के बाद वे लोग बरबीघा के पटेल नगर मोहल्ले में सड़क पर ही रात बिता रही है।
विकलांग बलबीर भी करता है भिक्षाटन
गोलीबारी और मारपीट के डर से अपने गांव से भागा विकलांग बलवीर भिक्षाटन कर अपनी मां का भी परवरिश करता है। बलवीर दोनों पैर से पूरी तरह विकलांग है और वह बोल भी ठीक से नहीं पाता। सुरसी देवी कहती है कि उनका एक और पुत्र है धर्मवीर जिसके साथ मारपीट की गई और वह अभी तक लापता है। सुरसी देवी ने बताया कि भय से वह पुलिस के पास भी नहीं गयी है।
उधर इस संबंध में पूछे जाने पर सरमेरा थाना अध्यक्ष उदय सिंह ने कहा कि थाने में इसकी सूचना नहीं दी गई है पुलिस को अभी सूचना मिली है तो इसकी जांच की जाएगी और कार्रवाई होगी।

मंदिर मस्जिद साथ साथ एकता दिवस पे बिशेष

#एकता_दिवस #मंदिर_मस्जिद साथ साथ आज एकता दिवस है। मंदिर मस्जिद का मुद्दा फिर चुनाव आते ही चरम पे है। विकास, रोजगार, रोटी का मुद्दा गौण। इ...