08 मार्च 2014

औरत केवल औरत नहीं होती..(महिला दिवस पर )

औरत केवल औरत नहीं होती..
वे होती एक मां
जिनकी आंचल में पलती है
जिंदगी।

वे होती है एक पत्नी
जिनकी आंचल में पलता है
प्यार।

वे होती है बहन-बेटी
जिससे आंगन मे पलता है
दुलार.

औरत केवल औरत नहीं होती
वे है तो होता ईश्वर के होने का होता है एहसास ...

ओशो के विचार: सुखी रहने के सफल मंत्र

ओशो के विचार, सुखी रहने का सफल मंत्र ** दुख पर ध्यान दोगे तो हमेशा दुखी रहोगे, सुख पर ध्यान देना शुरू करो। दअसल, तुम जिस पर ध्यान देते हो...