08 फ़रवरी 2018

कड़ी मेहनत से मिलती है सफलता

कड़ी मेहनत और लगन के साथ पढ़ाई से मिलती है सफलता- पुलिस अधीक्षक अश्वनी कुमार

बिहार कौशल विकास मिशन के बच्चों के बीच किया पुरस्कार वितरण

बरबीघा।

बिहार कौशल विकास मिशन द्वारा संचालित श्रद्धानंद स्मारक कुशल युवा कार्यक्रम केंद्र पर झारखंड के खूंटी जिला पुलिस अधीक्षक अश्विनी कुमार ने बच्चों को जीवन में आगे बढ़ने और सफलता पाने का गुरु मंत्र दिया। वे बरबीघा के सामाचक में रहकर पढ़ाई की है। इस मौके पर अश्वनी कुमार ने कहा कि कठिन परिश्रम और लगन के साथ नियमित पढ़ाई से ही सफलता मिलती है।

साथ ही अश्वनी कुमार के द्वारा कुशल युवा केंद्र के क्विज प्रतियोगिता में विजई बच्चों के बीच पुरस्कार वितरित भी किया।

इस अवसर पर आयोजित समारोह में बोलते हुए अश्वनी कुमार ने कहा कि बरबीघा के प्राथमिक विद्यालय सामाचक से पढ़ाई प्रारंभ की और झोला लेकर जमीन पर बैठकर शिक्षक रामनरेश सिंह के द्वारा पढ़ाई सीखी और वही बुनियाद आज सफलता तक पहुंचाया। उन्होंने कहा कि शेरपर मध्य विद्यालय से पढ़ाई करने के क्रम में प्रधानाध्यापक गीता सिंह के द्वारा दिया गया गुरु मंत्र उनके जीवन में दूर तक काम आया। गीता बाबू सर्वज्ञ शिक्षक थे और हिंदी के क्लास में सामान्य विज्ञान से लेकर सामान्य ज्ञान तक की बातें सिखा दिया करते थे। साथ ही साथ उन्होंने अपने शिक्षक रामशकल साहू, अर्जुन पंडित, अरुण त्यागी और संजय प्रसाद का भी जिक्र कर बच्चों को लगन और मेहनत से पढ़ने का गुरु मंत्र दिया।

इस अवसर पर उनके द्वारा श्रद्धानंद स्मारक कुशल युवा केंद्र के बच्चों को कुशल युवा कार्यक्रम क्यूज़ प्रतियोगिता सफलता हासिल करने पर पुरस्कार प्रदान किया गया। प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार मुकेश कुमार, चंदन कुमार रंजना कुमारी, द्वितीय पुरस्कार अर्णव कुमार, रंजना कुमारी, जीशान अली को प्रदान किया गया जबकि तृतीय पुरस्कार अंजनी कुमार, राज कुमार, संजना कुमारी और संदीप कुमार को प्रदान किया गया।

इस अवसर पर समारोह का संचालन संस्था के निदेशक अरुण साथी ने किया जबकि अतिथि का स्वागत राजू सिंह के द्वारा किया गया। मौके पर शशांक कुमार, स्वराज हिंद, रोहित कुमार, लवली साव, भाजपा जिला अध्यक्ष संजीत प्रभाकर, देव कुमार पांडे, नीतिनजय कुमार, बरुन सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

मंदिर मस्जिद साथ साथ एकता दिवस पे बिशेष

#एकता_दिवस #मंदिर_मस्जिद साथ साथ आज एकता दिवस है। मंदिर मस्जिद का मुद्दा फिर चुनाव आते ही चरम पे है। विकास, रोजगार, रोटी का मुद्दा गौण। इ...