03 मई 2010

कसाब को फांसी की सजा होनी चाहिए

कसाब को फांसी की सजा होनी चाहिए



पर क्या फांसी की सजा होने के बाद भी कांग्रेस की सरकार उसे फांसी पर लटकाएगी? या वोट बैंक की राजनीति के तहत मुसलमानों की नाराजगी के डर से कसाब को भी मेहमान बना कर तब तक रखा जाएगा जब तक कोई प्लेन का हायजेक करके कसाब को छोड़ने की मांग नहीं रखता? क्या मुसलमान भाई कसाब को फांसी दिए जाने से नराज हो जाएगें? कई सवाल है जो मन में कौंध रहा है पता नही इसका जबाब क्या होगा?


मोनू खान

मोनू खान। फुटपाथ पर बुक स्टॉल चलाते वक्त मित्रता हुई और कई सालों तक घंटों साथ रहा। मोनू खान, ईश्वर ने उसे असीम दुख दिया था। वह दिव्यांग था। ...