26 फ़रवरी 2016

इस हमाम में सब नंगे है..क्या बीजेपी, क्या कोंग्रेस, क्या वाम, क्या आप

इस हमाम में सब नंगे है..क्या बीजेपी, क्या कोंग्रेस, क्या वाम, क्या आप

जेनयू में जिस महिषासुर के महिमामंडन की कथा स्मृति ईरानी ने संसद में पर्चा पढ़ी और संसद में जेनयू के छात्रों के गन्दी राजनीति को पर्दाफास करने का दावा किया वही दावा अब बीजेपी के गले की फ़ांस बन गयी है।

स्मृति ने इसे देवी दुर्गा के अपमान से जोड़कर उछाला और अब विपक्ष उसे इस मामले में घेर रही है कि स्मृति में देवी दुर्गा का अपमान किया।

और राजनीति के हमाम की नंगई देखिये कि देवी दुर्गा के अपमान करने के जिस मामले को बीजेपी जैसी स्वघोषित धर्म रक्षक, राष्ट्रवादी पार्टी ने उठाया उसी पार्टी के सांसद आज महिषासुर शहादत दिवस के मुख्य अतिथि रहे उदित राज जी है।

वोट बैंक में बदला धर्म लोकतंत्र का जहर

वोट बैंक में बदला धर्म लोकतंत्र का जहर अरुण साथी ताजिया को अपने कंधे पर उठाए मेरे ग्रामीण युवक बबलू मांझी रात भर जागकर नगर में घूमता रहा। ...