30 जनवरी 2016

गोडसे का रक्तबीज

गोडसे रक्तबीज
***
जरुरी नहीं कि
भगवान सबको
सम्मति ही दें!

जरुरी नहीं
सबकी
विचारधारा
धार्मिकता
जातियता
सामान हो..

वैचारिक विभेद
प्रजातंत्र है
मानवीय है...

अमानवीय है
मतभेदों को
मारने की मंशा रखना 
या कि
मार ही देना..

गोडसे का रक्तबीज
कहीं मुझमें भी तो नहीं..
खोजो, पकड़ो, सोंचो..

(कोर्ट में हँसते गोडसे की तस्वीर देखकर)

सोशल मीडिया छोड़ो सुख से जियो, एक अनुभव

सोशल मीडिया छोड़ो, सुख से जियो, एक अनुभव अरुण साथी पिछले कुछ महीनों से फेसबुक एडिक्शन (सोशल मीडिया एडिक्शन) से उबरने के लिए संघर्ष करना पड़ा...