11 फ़रवरी 2010

वेलेन्टाइन डे पर गुण्डों का कवरेज बन्द करे मिडिया

वेलेन्टाइन डे पर गुण्डागदीZ की तैयारी लाठी की पूजा के साथ ही हो रही
है। वेलेन्टाइन डे प्रेम दिवस के रूप में मनाया जाता है पर आज यह कुछ
लोगों के प्रेम के प्रदशZन का दिवस रह गया है और मैं इससे भी सहमत नहीं,
पर इसके आड़ में कभी बजरंग दल तो कभी श्रीराम सेना अपनी कुंठित राजनीतिक
महत्वाकांझा को चमकाने का जरीया बना लिया है। इन गुण्डागदीZ करने वाले
संगठनों का मकसद वेलेन्टाइन डे का विरोध कम और मिडिया का कवरेज पाने की
मंशा अधिक होती है तथा इनकी इस मंशा को पूरा करने में मिडिया प्रत्यक्ष
आप्रत्यक्ष रूप से उनका साथ देती है। मैं इस बहस में नहीं जाना चाहता कि
वेलेन्टाइन डे पर प्रेम का प्रदशZन उचित है या अनुचित। क्योंकि यह एक
विवादित विषय बन गया है और मेरा मानना है कि प्रेम प्रदशZन की चीज नहीं
है। सच्चे प्रेम को प्रदशZन की जरूरत भी नहीं होती।
एक बार फिर मिडिया के भाइयों से अपील की कृपा कर आप गुण्डागदीZ को कवर
करना बन्द करें तो गुण्डागदीZ अपने आप बन्द हो जाएगी।

मोनू खान

मोनू खान। फुटपाथ पर बुक स्टॉल चलाते वक्त मित्रता हुई और कई सालों तक घंटों साथ रहा। मोनू खान, ईश्वर ने उसे असीम दुख दिया था। वह दिव्यांग था। ...