02 जनवरी 2011

तलाक (चुटकी)

पत्नी पीड़ित पति ने

तलाक का खर्चा पूछा

वकील साहब ने कहा एक हजार

भड़ककर पति महोदय ने कहा

वाह सरकार

शादी में पंडित ने खर्च कराये

कुल रूपये चार

तलाक में आप लेगें एक हजार।

वकील ने तपाक से कहा

बिल्कुल सही कह रहे हो

और

सस्ते काम का परिणाम ही

तो सह रहे हो।

कविवर को नमन

किसान (कविता) / मैथिलीशरण गुप्त हेमन्त में बहुदा घनों से पूर्ण रहता व्योम है पावस निशाओं में तथा हँसता शरद का सोम है हो जाये अच्छी भी फसल...