30 जनवरी 2011

कुछ बोलती तस्वीर...........


जो मेरे मित्र निरंजन जी (पेशे से वकील एवं पत्रकार) ने भेजी है.




सोंचा आपसे भी सांझा करलूं....

सोशल मीडिया छोड़ो सुख से जियो, एक अनुभव

सोशल मीडिया छोड़ो, सुख से जियो, एक अनुभव अरुण साथी पिछले कुछ महीनों से फेसबुक एडिक्शन (सोशल मीडिया एडिक्शन) से उबरने के लिए संघर्ष करना पड़ा...