30 जनवरी 2011

कुछ बोलती तस्वीर...........


जो मेरे मित्र निरंजन जी (पेशे से वकील एवं पत्रकार) ने भेजी है.




सोंचा आपसे भी सांझा करलूं....

मोनू खान

मोनू खान। फुटपाथ पर बुक स्टॉल चलाते वक्त मित्रता हुई और कई सालों तक घंटों साथ रहा। मोनू खान, ईश्वर ने उसे असीम दुख दिया था। वह दिव्यांग था। ...