10 मार्च 2010

जार्ज के साथ जो किया उसका खामियाजा भुगतना होगा

चाय की दुकान पर चाय पीने के क्रम में यह चर्चा सुनने को मिली। सभी लोग बिहार मे नीतीश कुमार की मनमानी और शरद यादव की जिद्द पर चर्चा कर रहे थे। लोग जदयू की घटना पर चर्चा करते हुए लालू यादव का जनता दल से अलग होने की चर्चा भी कर रहे थे। सबसे अधिक लोग इसकी चर्चा कर रहे थे की नीतीश कुमार, शरद यादव और ललन सिंह ने जार्ज फर्नाडीस की जो दुर्गति की थी उसका खामियाजा तो  भुगतना ही होग। 
लोग शायद ठीक ही कह रहे थे, मेरा भी यही मानना है। तिकड़म करके देश के सबसे प्रखर समाजबादी नेता जर्जा साहब को अध्यक्ष पद से जिस तरह बेइज्जत कर हटाया गया और उनको औकता बताने की बात कही गई थी यह एक बड़ा पाप था और इसका फल तो भुगतना ही पड़ेगा। आखिर राजनीति किसी का उधर जो नहीं रखती............ 

एचएम और शिक्षक सरकारी स्कूल में पी रहे थे ताड़ी, शिक्षक ने मिलाया जहर

सरकारी स्कूल में नशीला पदार्थ आया ताड़ी, शिक्षक ने मिलाया जहर शेखपुरा बिहार में शिक्षा व्यवस्था का हाल बदहाल है। सरकारी स्कूल में प्रधानाध्...