11 जनवरी 2010

चलो तो सही

चलो तो सही

कहीं जाना है तुम्हें
रास्ते नहीं मिलते,
तो क्या
चलो तो सही चलना ही रास्ता है।
एक एक कदम
मंजील की ओर
सिर्फ तुम्हीं नहीं चलते
मंजील भी चलती है तुुम्हारी ओर।
चलो तो सही
चलना ही रास्ता है।

हलाला बनाम बलात्कार

हलाला बनाम बलात्कार (अरुण साथी) पिता समान ससुर से सेक्स की बात को मजहब के आड़ में हलाला बता सही ठहराते हो हो शैतान और तुम मुल्ले-मौ...